Sunday, February 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारी दिल्लीदिल्‍ली विधानसभा के बजट सत्र में एलजी ने पढ़ा अभिभाषण में बताई...

दिल्‍ली विधानसभा के बजट सत्र में एलजी ने पढ़ा अभिभाषण में बताई सरकार की उपलब्धियां, कहा कि बीते कुछ दिनों में बोलने की मर्यादा टूटी है

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार को बजट सत्र की शुरुआत उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के अभिभाषण से हुई. उनके 20 मिनट के अभिभाषण में उन्होंने दिल्ली सरकार के अलग-अलग क्षेत्रों में हुई उपलब्धियों को बताया. इस दौरान उन्होंने कहा कि कई बाधाओं के बाद भी केजरीवाल सरकार ने अच्छे काम किए. उन्होंने दिल्ली सरकार की तारीफ की वहीं शिक्षा क्षेत्र की उपलब्धियों को बताते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि 10 वीं और 12 वीं में शानदार नतीजा आया. सरकारी स्कूल में लगभग 20 हजार कमरे बनाये गए हैं. दिल्ली सरकार ने अलग शिक्षा बोर्ड की स्थापना की और दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी के दूसरे चरण का कार्य भी पूरा होने वाला है. इसके अलावा दिल्ली में कई अंडरपास फ्लाईओवर से संबंधित योजना का जिक्र करते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि पूरी दिल्ली मे 1 लाख 35 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और तो और 75वें स्वतंत्रता दिवस और आजादी के अमृत महोत्सव पर पूरी दिल्ली में 500 राष्ट्रीय झंडे भी लगाए गए हैं.

उपराज्यपाल ने कहा कि सरकार ने 34 हजार नई पाइपलाइन बिछाई जिसके साथ चंद्रावल और वजीराबाद की वाटर ट्रीटमेंट प्लांट योजना भी पूरी होने वाली हैं. उन्होंने आगे बताया कि सामाजिक सुरक्षा और कल्याण क्षेत्र में वृद्धावस्था सहायता योजना के तहत 408 लाख लोगों को पेंशन दी गई है, वहीं एक लाख से ज्यादा लोगों को विशेष आवश्यक पेंशन का भुगतान करने के साथ 350 लाख संकटग्रस्त महिलाओं को भी वित्तीय सहायता प्रदान की गई है. स्वास्थ्य क्षेत्र में हुए कार्यों के जिक्र करते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि दिल्ली के स्वास्थ्य में बहुत शानदार काम हुआ है. इसके अंतर्गत 38 मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल और 522 मोहल्ला क्लिनिक बनाये गए नए अस्पतालों में 16 हजार नए बेड जोड़े जाएंगे इसके साथ दिल्ली में केजरीवाल सरकार सभी को स्वास्थ्य कार्ड प्रदान करेगी.

ऊर्जा क्षेत्र के कार्यों के बारे में बात करते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि दिल्ली में बिजली उपभोक्ताओं को 200 यूनिट तक फ्री बिजली और 201 से 400 तक यूनिट वालों को सब्सिडी मिल रही है. दिल्ली में गत वर्ष 29 जून को पीक बिजली डिमांड पूरी की गई दिल्ली में बिजली दर पड़ोसी राज्य से सबसे कम है. इसके अतिरिक्त परिवहन क्षेत्र कार्यों के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि डीटीसी में 1500 बस जोड़ी जा रही हैं. वहीं महिलाओं को हल्के मोटर वाहन चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. अपने अभिभाषण में उन्होंने पर्यावरण बेहतर बनाने के लिए दिल्ली सरकार की हरित और स्वच्छ दिल्ली के लिए प्रतिबद्धता का ज़िक्र भी किया, साथ ही साथ वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए लगातार व्यापक प्रयास और वायु की गुणवत्ता मापने के लिए 40 एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग स्टेशन की स्थापना की भी बात कही. इसके अलावा धूल से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए पूरी दिल्ली में मैकेनिकल रोड स्वीपर और वाटर स्प्रिंकलर तथा एंटीस्मॉग गन तैनात करने पर भी रोशनी डाली.

एलजी ने कहा कि वायु प्रदूषण के स्तर में सुधार की दिशा में सरकार के प्रयासों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है. गंभीर वायु गुणवत्ता 2021 में 24 दिनों से गिरकर 2022 में 6 दिन रह गई है. यमुना नदी में गिरने वाले 18 प्रमुख नालों को इंटरसेप्टर सीवर परियोजना में कवर करने के साथ उनके कमान क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले उपनालों के प्रवाह को रोक कर उपचारित किया गया है इसके साथ 78 फीसद अनधिकृत कॉलोनियां भी सीवरेज सिस्टम से जोड़ दी गई हैं. उन्होंने अभिभाषण में यह भी कहा कि दिल्ली के वेटलैंड प्राधिकरण ने 1018 जल निकायों की जियोटैगिंग और मैपिंग का काम पूरा कर लिया है. दिल्ली सरकार द्वारा मिशन मोड में सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने के लिए विशेष कार्यबल का गठन किया गया है. और व्यापक कार्य योजना तैयार की गई है दिल्ली में हरित क्षेत्र 342 वर्ग किलोमीटर हो गया है जो 2306 फीसद क्षेत्र को कवर करता है.

उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने बजट पर भाषण दिया. करीब आधे घंटे के अपने भाषण में उन्होंने दिल्ली सरकार के कामकाज के बारे बताया. एलजी जब अपना भाषण खत्म कर बाहर निकले तो उनके साथ सीएम अरविंद केजरीवाल दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल भी थे. विधानसभा से निकलकर उन्होंने मीडिया से भी बात की हालांकि उन्होंने सिर्फ एक सवाल का जवाब दिया उनसे जब यह पूछा गया कि आपने अभी विधानसभा के अंदर दिल्ली सरकार के कामकाजों के बारे में बताया लेकिन आपके और सीएम केजरीवाल के बीच संबंध अच्छे नहीं हैं क्या इनमें सुधार होगा. इस पर एलजी ने सीएम केजरीवाल और आप सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीते कुछ दिनों में बोलने की मर्यादा टूटी है यह नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि पेड़ से पत्ते टूट कर गिर जाते हैं और नए पत्ते आते हैं इस दौरान सीएम केजरीवाल भी उनके साथ थे. लेकिन उन्होंने मीडिया से बात नहीं की और वह सीधे विधानसभा के अंदर पहुंचे. यहां विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने सोमवार तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी.

विधानसभा की कार्यवाही स्थगित होने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल मीडिया से रूबरू हुए उन्होंने एलजी के मर्यादा टूटने वाले बयान पर कहा कि यह जनतंत्र है और जनतंत्र की जीत होनी चाहिए. एलजी का बयान ठीक नहीं है. दिल्ली के 2 करोड़ लोगों ने आम आदमी पार्टी की सरकार बनाई है. वहीं स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा कि बिल्कुल मर्यादा टूटी है. आज देखिए किस तरह से एलजी के भाषण के दौरान भाजपा विधायकों ने उन्हें बोलने तक नहीं दिया. हम अपनी तरफ से पहल कर सकते हैं. लेकिन ऐसा तभी होगा जब वह भी पहल करें.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments