Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारा नेताआप नेता राघव चड्ढा ने पीएम मोदी और भाजपा नेताओं पर साधा...

आप नेता राघव चड्ढा ने पीएम मोदी और भाजपा नेताओं पर साधा निशाना, कहा- “झूठे हैं सिसोदिया पर लगे सभी आरोप”

संवाददाता

नई दिल्ली । दिल्ली शराब घोटाले में दिल्‍ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद से आप आदमी पार्टी लगातार केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोल रही है। अब आप नेता राघव चड्ढा ने प्रेस वार्ता का आयोजन कर भाजपा दिग्गज नेताओं और पीएम मोदी को आड़े हाथों लिया।

आप नेता ने प्रेस वार्ता में भाजपा पर एजेंसियों के दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मनीष सिसोदिया पर एक और झूठा मुकदमा, फीडबैक यूनिट की आड़ में किया गया है। भाजपा आरोप लगा रही है कि सिसोदिया ने पीएम और भाजपा के अन्य नेताओं की जासूसी कराई है।

“मैं पूछना चाहता हूं कि आधे स्टेट का आधा उपमुख्यमंत्री देश के सबसे ताकतवर पीएम और सबसे प्रभावशाली पार्टी के नेताओं की पिछले 8 सालों से जासूसी करा रहा था, लेकिन भारत सरकार की किसी भी एजेंसी के पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी और अगर ऐसा हो रहा था तो सबसे पहला सवाल भारत की जांच एजेंसियों पर खड़ा होता है।”

“मैं भाजपा के नेताओं से कहना चाहता हूं कि अगर किसी ने आपकी जासूसी की है तो सबसे पहले एनआईए, आईबी और रॉ के बड़े-बड़े अधिकारियों को हटाइए, क्योंकि आठ साल को कोई व्यक्ति आपकी जासूसी कर रहा है और वह पता ही नहीं लगा पा रही हैं।”

यह भाजपा की बौखलाहट है

“मैं भाजपा के लोगों से पूछना चाहता हूं कि कोई व्यक्ति पिछले आठ सालों से जासूसी करा रहा है तो एजेंसियों को क्यों नहीं पता चला। अगर ऐसा था तो ये सुरक्षा एजेंसियों की बड़ी चूक है और ऐसा नहीं था तो यह भाजपा नेताओं की बौखलाहट है जो मनीष सिसोदिया को झूठे मुकदमों में इसलिए फंसा रही है कि वह जेल से बाहर न आएं।

हमने आपको पहले भी बिंदु वार तरीके से बताया है कि ईडी, सीबीआई के पास मनीष सिसोदिया से पूछ के लिए सवाल हैं। वहीं चार पुराने सवाल हैं, जिन्हें ईडी और सीबीआई बारी-बारी से पूछ रही हैं। कोई केस नहीं है, कोई रिकवरी नहीं है, कोई क्राइम नहीं है। पर सिसोदिया को जेल में डालो, जांच की आड में उन्हें जेल में रखों।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं कहना चाहता हूं कि आप मनीष सिसोदिया और आम आदमी पार्टी से हटा कर अपना ध्यान उन लोगों पर लगाओ जो जांच एजेंसियां, पुलिस के नाम का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। हाल  ही में हमने देखा की एक गुजरात के किरण  भाई पटेल अपने आपको पीएमओ ऑफिस का एडिशनल डायरेक्टर बताते हुए पिछले 6 महीने से कश्मीर में रह रहे हैं और कश्मीर में प्रशासन ने उन्हें जे प्लस सुरक्षा दी हुई है। वहीं, उन्होंने भाजपा पर दिल्ली विधानसभा में लाया जा रहा लॉ कॉन्फिडेंस मोशन को लेकर भी निशाना साधा है।”  

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments