Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeजनमंचराहुल गांधी की सदस्यता रद्द होना ‘विनाश काले विपरीत बुद्धि’, बढ़ेंगी 100...

राहुल गांधी की सदस्यता रद्द होना ‘विनाश काले विपरीत बुद्धि’, बढ़ेंगी 100 सीटें- शत्रुघ्न सिन्हा

एजेंसी

कोलकाता। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी को दो साल साल की कैद की सजा के बाद लोकसभा से उनकी सदस्यता रद्द कर दी गयी है. राहुल गांधी की सदस्यता रद्द किये जाने के बाद विरोधी दलों ने भाजपा और मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

राहुल गांधी और कांग्रेस से दूरी बनाए रखने वाले नेताओं में ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल ने भी इस फैसला का विरोध किया है. अब टीएमसी के सांसद और बॉलीवुड स्टार शत्रुघ्न सिन्हा ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा, “मैं पीएम नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देता हूं. उन्होंने जो किया वह ‘विनाश काले विपरीत बुद्धि’ का एक उदाहरण है, लेकिन यह न केवल लोकतंत्र की रक्षा करेगा, बल्कि राहुल गांधी और विपक्ष को 100+ सीटों का लाभ दिलाने में भी मदद करेगा…”

बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा इसके पहले भी राहुल गांधी के नेतृत्व की प्रशंसा करते आ रहे हैं. उन्होंने राहुल गांधी के भारत जोड़ो यात्री की प्रशंसा करते हुए उनकी काफी तारीफ की थी.

ANI के दिये गये साक्षात्कार में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, ” देखिए शुरुआत हो गयी है. एक चीनी कहावत है कि हजारों मील की यात्रा की शुरुआत पहले उठे कदम से होती है. राजनीतिक कदम उठाये गये हैं. ममता बनर्जी लीडर ऑफ मासेस और स्ट्रीट फाइटर, लोकतंत्र के समर्थन में सामने आई हैं. अरविंद केजरीवल मेरे दोस्त भी सामने आये हैं. यह इतना जबरदस्त मुद्दा है. हम प्रशंसा करते हैं. हम बधाई देते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा करते हैं. ”

राहुल की सदस्यता जाने से विपक्ष की बढ़ेंगी 100 से ज्यादा सीटेंशत्रुघ्न सिन्हा ने आगे कहा, “कहा जा सकता है कि विनाश काले विपरीत बुद्धि. यह बहुत बड़ा हथियार राहुल गांधी को दे दिया है. लोकतंत्र की रक्षा ही नहीं होंगी. 100 प्लस सीट का इजाफा राहुल गांधी ओर विपक्ष को होगा. भारत जोड़ो यात्रा सोने पर सुहागा था. पीएम और सत्तारूढ़ दल के अध्यक्ष का स्वागत करता हूं, ऐसा काम किया है. इसका फल आपको भुगतना पड़ेगा और विपक्ष लाभ लेगा और राहुल गांधी के नेतृत्व में चार चांद चलेगा.” बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा पहले भाजपा के सासंद और मंत्री थे, लेकिन विरोध के बाद उन्होंने भाजपा छोड़ दिया था और फिलहाल आसनसोल से टीएमसी के सांसद हैं. शत्रुघ्न सिन्हा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कट्टर विरोधी माना जाता रहा है. वह प्रायः ही मोदी और मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना करते रहे हैं.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments