Sunday, February 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeअल्पसंख्यक मंचहज कमेटी की चेयरपर्सन बीजेपी की है इसलिए दिल्‍ली सरकार का विभाग...

हज कमेटी की चेयरपर्सन बीजेपी की है इसलिए दिल्‍ली सरकार का विभाग हज कमेटी से 10 दिनों में खाली करवाना चाहता है ऑफिस

संवाददाता

नई दिल्‍ली। देश की राजधानी दिल्ली में आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच तकरार कम होने का नाम नहीं ले रही है। कई मुद़दो का लेकर दिल्‍ली सरकार व एलजी के बीच पहले से विवाद चल रहे हें। अब ताजा मामला डीयूएसआईबी यानि दिल्ली सरकार के दिल्‍ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड से जुड़ा हुआ है। दिल्ली सरकार के डीयूएसआईबी विभाग ने दिल्ली के हज कमेटी ऑफिस को 10 दिनों में खाली करने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने 1 करोड़ रुपये चुकाने की कही बात विभाग की तरफ से लिखित में कहा गया है कि हज कमेटी का ऑफिस डीयूएसआईबी की लाइसेंस फीस जो 1 करोड़ रुपये है उसको चुका दें वरना पुलिस की मदद से ऑफिस को खाली करवा लेंगे।

पूरे मामले पर दोनों ही पार्टियों की तरफ से एक दूसरे पर आरोपप्रत्यारोप की राजनीति भी तेज हो गई है। दिल्ली सरकार द्वारा हज कमेटी के ऑफिस खाली कराए जाने को लेकर दिल्ली बीजेपी प्रदेश ऑफिस में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी । जिसमें भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता शाजिया इल्मी दिल्ली हज कमेटी अध्यक्ष कौसर जहां और प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष हारून इस पूरे मामले पर अपना पक्ष रखेंगे । दरअसल बता दें कि दिल्‍ली हज कमेटी की नई चेयरपर्सन कौसर जहां भाजपा से है ।

बता दें कि पिछले महीने ही बीजेपी की कौसर जहां हज कमेटी की चेयरपर्सन बनी हैं, जिसके बाद से ही आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच लगातार तकरार जारी है। क्योंकि इस बार हज कमेटी के चेयरमैन पद पर बीजेपी का कब्जा हुआ है। और यही वजह है कि इस ऑफिस को खाली करवाने की बात कही जा रही है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments