Sunday, February 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeजनमंचगाजियाबाद पहुंचे Dy CM केशव मौर्य से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कहा-कमिश्नरेट बनने...

गाजियाबाद पहुंचे Dy CM केशव मौर्य से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कहा-कमिश्नरेट बनने से नहीं हुआ कोई खास सुधार, पुलिस सिर्फ चालान में व्‍यस्‍त

संवाददाता

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य बुधवार को गाजियाबाद के दौरे पर हैं। मौका था महर्षि कश्‍यप जंयती मनाने के लिए कश्‍यप निषाद संगठन द्वारा आयोजित कश्यप महाकुंभ में शामिल शामिल होंने का । इस मौके पर डिपटी सीएम ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। यहां यहां उन्‍होंने भाजपा के प्रमुख पदाधिकारियों व जनप्रतिनिधियों संग बैठक की। उपमुख्यमंत्री ने इस दौरान मंडल अध्यक्ष से लेकर सभी वरिष्ठ कार्यकर्ताओं से उनकी क्षेत्रीय समस्या, प्रशासन का रवैया, किसानों की स्थिति का पूर्ण ब्यौरा लिया। कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न में पुलिस-प्रशासन के रवैये की अधिक शिकायत सामने आईं।

कार्यकर्ताओं ने उपमुख्यमंत्री से कहा कि कमिश्नरेट बनने के बाद से कोई खास सुधार देखने को नहीं मिला है। सिर्फ पुलिस ने वाहनों के चालान काटने की संख्या जरूर बढ़ा दी है। कार्यकर्ताओं ने कहा कि यदि पुलिस को ये बात पता चल जाए कि गाड़ी वाला बीजेपी से है तो उसका फिर और ज्यादा उत्पीड़न किया जाता है।

डिप्टी सीएम ने साफ कहा कि कार्यकर्ताओं के मान-सम्मान से कोई खिलवाड़ नहीं होगा। सरकार की छवि खराब करने और कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न करने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा। इस बैठक में भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष सतेंद्र सिसौदिया, जिलाध्यक्ष दिनेश गोयल, महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, राज्यसभा सांसद अनिल अग्रवाल, सुनीता दयाल, मान सिंह गोस्वामी, मयंक गोयल, उदिता त्यागी, रूचि गर्ग, पूनम कौशिक, विकास गुप्ता समेत पांचों विधायक अतुल गर्ग, मंजू शिवाच, अजितपाल त्यागी, नंदकिशोर गुर्जर, सुनील शर्मा निवर्तमान तथा निर्वतमान मेयर आशा शर्मा भी मौजूद रहे।

डिप्‍टी सीएम ने की विकास कार्यो की समीक्षा

इससे पहले उप मुख्यमंत्री ने जिला मुख्यालय के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा की और जिले में विभिन्न विभागों की चल रही योजनाओं की प्रगति जानी। इससे पूर्व उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। बुके देकर डीएम आरके सिंह ने उनका स्वागत किया। बैठक में डिप्टी सीएम ने जिले की उपलब्धियों के लिए अधिकारियों की सराहना की।

उन्होंने उद्योग बंधु की अब तक हुई बैठक का विवरण की जानकारी ली कि निवेश के बाद किस स्तर पर काम चल रहा है और निवेश मित्र पोर्टल पंजीकृत आवेदनों का विवरण जुटाया। इसके बाद डिप्टी सीएम ने वृद्घावस्था पेंशन, किसान पेंशन, महिला पेंशन, विधवा, दिव्यांगजन पेंशन, सामूहिक विवाह योजना, छात्रव्रत्ति, शुल्क प्रतिपूर्ति योजना, कन्या सुमंगला योजना, श्रमिकों का वितरण, पशुपालन, गेंहू, धान क्रय, बीज की उपलब्धता, विद्युत आपूर्ति, जिला व तहसील मुख्यालयों को चार लेन व दो लेन से जोडऩा, आईजीआएस, थाना दिवस, ब्लॉक दिवस, तहसील दिवस व निर्माणाधीन परियोजनों की समीक्षा की।
डिप्टी सीएम ने अधिकारियों को निर्देश कि शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं को समय से पूरा किया जाए और हर योजना का लाभ लाभार्थियों तक पहुंचाया जाए। उन्होंने कहा कि लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा। बैठक में मंडल आयुक्त सेल्वा जे. कुमारी, पुलिस कमिश्नर अजय मिश्रा, डीएम आरके सिंह, सीडीओ विक्रमादित्य सिंह मलिक मौजूद थे।

2017 से पहले प्रदेश के सभी 75 जिले पूरी तरह से अपराध के अड्डे थे

कलक्ट्रेट में समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में डिप्टी सीएम ने कहा, 2017 से पहले प्रदेश के सभी 75 जिले पूरी तरह से अपराध के अड्डे बने रहते थे। आज अपराधियों पर सख्ती से कार्रवाई हो रही है। गाजियाबाद प्रवेश द्वार के साथ उप्र का विकास द्वार भी है। इसे देखकर लोगों को लगता है कि हमारे प्रदेश की विकास की शुरुआत कैसी है।

उन्होंने कहा, 26 अगस्त को गाजियाबाद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आए थे। उन्होंने जो निर्देश दिया, उसका कितना पालन हुआ, ये जानकारी समीक्षा बैठक में ली गई है। डिप्टी सीएम ने बारिश-ओलावृष्टि के मद्देनजर फसलों के नुकसान का आकलन कराकर भरपाई की बात कही।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments