Friday, March 1, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारी दिल्लीसीएम आवास की साज सज्जा में खर्च को लेकर भाजपा का धरना...

सीएम आवास की साज सज्जा में खर्च को लेकर भाजपा का धरना जारी

-जब जनता ऑक्सीजन, दवाईयों और भोजन के लिए परेशान थी उस वक्त केजरीवाल अपने महल की मरम्मत करवाने में लगे थे: दुष्यंत गौतम
-गाड़ी-बांग्ला ना लेने की बात करने वाले केजरीवाल ने सिर्फ बंगला और गाड़ी ही नहीं ली बल्कि अपने लिए 7 स्टार फैसिलिटी राजमहल की व्यवस्था की: मीनाक्षी लेखी
नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा के द्वारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास की साज सज्जा में खर्च हुए करोड़ों रूपयों लेकर बुधवार को तीसरे दिन भी भाजपा का सीएम आवास पास धरना जारी रहा। बुधवार को नई दिल्ली संसदीय क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ता धरने में शामिल हुए। धरने को भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम, केन्द्रीय राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी, दिल्ली भाजपा महामंत्री कुलजीत सिंह चहल एवं उपाध्यक्ष अशोक गोयल आदि ने सम्बोधित किया। धरने को संबोधित करते हुए दुष्यंत गौतम ने कहा कि दिल्ली की जनता की मेहनत की कमाई के 45 करोड़ रुपये अरविंद केजरीवाल ने अपने रहने और ऐशो आराम में खर्च कर डाले हैं जबकि इनके जितने भी पुराने वीडियो क्लीप देखें तो उनकी जनता को गुमराह करने की झूठी मानसिकता साफ दिखेंगी। उन्होंने कहा कि आखिर दिल्ली कैसे भूल सकती है कि यह वही केजरीवाल हैं जिन्होंने उस समय के तत्कालिन मुख्यमंत्री स्व शीला दीक्षित के घर में घुसकर लगे ए.सी. की संख्या गिनाई थी और कह रहे थे कि दिल्ली की 40 फीसदी जनता जो झुग्गी झोपड़ी में रहती है वह कैसे इसका बिल देगी।दुष्यंत गौतम ने कहा कि केजरीवाल भ्रष्टाचार की चरमसीमा पार कर चुके हैं। यह बेहद ही हास्यास्पद है जब टीवी पर आकर आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता एक ओर कहते हैं कि छत गिर रही है वहीं दूसरी ओर 10 लाख रूपए का पर्दा क्यों लगाया गया है इसको सही बताते हैं। आखिर यह पढ़ी लिखी पार्टी के प्रवक्ता इतने अनपढ़ कैसे हो सकते हैं। पर्दे से छत का क्या कनेक्शन है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में जब कोरोना से त्राहीमाम मच रहा था, जब जनता ऑक्सीजन, दवाईयों और भोजन के लिए परेशान थी उस वक्त केजरीवाल अपने महल की मरम्मत करवाने में लगे थे। वहीं नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि एक ऐसे समय में जब घर से निकलना मना था, गरीब जनता को केजरीवाल सरकार द्वारा धक्के मारकर दिल्ली से बाहर निकाला जा रहा था तो आखिर उस वक्त केजरीवाल के राजमहल के निर्माण का काम कैसे चल रहा था। गाड़ी-बांग्ला ना लेने की बात करने वाले केजरीवाल ने सिर्फ बंगला और गाड़ी ही नहीं ली बल्कि अपने लिए 7 स्टार फैसिलिटी राजमहल की व्यवस्था की। उन्होंने कहा कि आज आम आदमी पार्टी के नेता केजरीवाल की तुलना देश के प्रधानमंत्री से कर रहे हैं जो कि किसी भी तरह से तर्कसंगत नहीं है। बिना टेंडर के 45 करोड़ रुपये खर्च कर केजरीवाल ने खुलेआम भ्रष्टाचार किया है। मास्टर प्लान 2021 के मुताबिक किसी भी प्रकार का निर्माण सिविल लाइन में नहीं किया जा सकता है, लेकिन केजरीवाल ने उसे भी नहीं माना। पर्यावरण की बात करने वाले केजरीवाल ने पेड़ों को काटा लेकिन उसके लिए ना ही अनुमति ली और ना ही उसके बदले में दूसरे पेड़ लगाए। कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि तेज बारिश भी भाजपा के संघर्ष को नहीं रोक सकती और जब तक केजरीवाल अपने राजमहल का हिसाब नहीं देते तब तक यह संघर्ष जारी रहेगा। आज जिस तरह से आम आदमी पार्टी के नेताओं ने वीडियो बनाकर दुष्प्रचार करने की कोशिश की है, वह सिर्फ उनकी बौखलाहट को दिखाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा ही जनता की आवाज बनकर इस भ्रष्टाचारी सरकार के खिलाफ संघर्ष करती रहेगी और केजरीवाल की तानाशाही नहीं चलने देगी। अशोक गोयल ने कहा कि भाजपा ने जब- जब संघर्ष किया है, उसका परिणाम सबके सामने आया है। सत्येन्द्र जैन और मनीष सिसोदिया आज जेल के अंदर हैं, अब आम आदमी पार्टी को भी पता है कि भ्रष्टाचार के असली सरगना जेल जाने वाला है, इसलिए उनके प्रवक्ता, मंत्री और विधायक सभी हाताश और परेशान है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments