Friday, March 1, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारी दिल्लीअस्पताल में दलित महिला के रेप और हत्या के विरोध में भाजपा...

अस्पताल में दलित महिला के रेप और हत्या के विरोध में भाजपा का प्रदर्शन

-केजरीवाल सरकार ने मुख्य अभियुक्त शाकिर खान को दिया संरक्षण: बिधूड़ी
-पीड़ित दलित परिवार के प्रति नहीं कोई संवेदना या सहानुभूति, मुख्यमंत्री केजरीवाल दें इस्तीफा

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के जी.बी. पंत अस्पताल के परिसर में दलित महिला कर्मचारी से रेप और हत्या के बाद केजरीवाल सरकार द्वारा मुख्य अभियुक्त शाकिर खान को दिए जा रहे संरक्षण के विरोध में भाजपा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निवास के बाहर विराट प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने किया। भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष योगिता सिंह और प्रदेश भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष भूपेंद्र गोठवाल भी प्रदर्शन में उपस्थित रहे।
प्रदर्शनकारी बड़ी संख्या में मुख्यमंत्री के आवास के बाहर एकत्रित हुए और उन्होंने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि इस घटना से केजरीवाल सरकार का दलित विरोधी चेहरा उजागर हो गया है। दलित महिला के साथ दरिंदगी की गई और उसे निर्भया की तरह ही नोचकर मार डाला गया। हैरानी की बात यह है कि आज तक मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने परिवार के पास जाकर हमदर्दी जताना तो दूर, इस बारे में सहानुभूति का एक शब्द भी नहीं बोला। उन्होंने अपने किसी मंत्री तो क्या विधायक को भी परिवार से मिलने के लिए नहीं भेजा और न ही परिवार की कोई आर्थिक मदद करने का ऐलान किया।
बिधूड़ी ने कहा कि एक दलित महिला की इस तरह निर्मम हत्या के बाद उसके दोषी को बचाने का आपराधिक कृत्य भी यह सरकार कर रही है। केजरीवाल सरकार मुस्लिम तुष्टिकरण के लिए इस स्तर तक गिर जाएगी, किसी ने यह नहीं सोचा था। मुख्य अभियुक्त शाकिर खान की जगह अगर कोई और होता तो यही आम आदमी पार्टी प्रदर्शन करके पूरी दिल्ली को सिर पर उठा लेती लेकिन मुख्य अभियुक्त के आम आदमी पार्टी का सक्रिय कार्यकर्ता होने के कारण यह सरकार उसे पूरा संरक्षण दे रही है।
बिधूड़ी ने कहा कि इस शर्मनाक हरकत के कारण केजरीवाल सरकार को अपने पद पर बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। दलितों का इस सरकार के प्रति मोह भंग हो चुका है और इसका सबक सरकार को सिखाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल इस कृत्य के कारण न केवल अपने पद से इस्तीफा दें बल्कि पूरे दलित समाज से माफी भी मांगें। उन्होंने कहा कि 15 दिन के भीतर इस परिवार को एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया जाए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। बिधूड़ी ने भाजपा के महिला मोर्चा और अनुसूचित मोर्चा के साथ संकल्प लिया कि भाजपा इस परिवार को न्याय दिलाए बिना चैन से नहीं बैठेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments