Tuesday, February 27, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारी दिल्लीदिल्ली में तेजी से बढ़ रहा यमुना का जलस्तर, यमुना किनारे रह...

दिल्ली में तेजी से बढ़ रहा यमुना का जलस्तर, यमुना किनारे रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थान पर लाया गया

नई दिल्ली। हरियाणा हथिनीकुंड बैराज से यमुना नदी में छोड़े गए एक लाख क्यूसेक से अधिक पानी के कारण दिल्ली में यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। उधर बाढ़ की आशंका के कारण यमुना के किनारे रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने का आग्रह किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने यमुना किनारे रहने वाले निवासियों से कहा कि हम यहां आप सभी को यह सूचित करने आए हैं कि भारी बारिश के कारण यमुना का स्तर बढ़ गया है। आप सभी से क्षेत्र खाली करने और सुरक्षित स्थान पर जाने का अनुरोध किया गया है। इस बीच, उत्तर भारत में भारी बारिश के बीच दिल्ली सरकार ने बाढ़ की चेतावनी जारी की, क्योंकि हरियाणा सरकार ने यमुनानगर में हथिनीकुंड बैराज से यमुना नदी में एक लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा। राष्ट्रीय राजधानी में लगातार हो रही बारिश को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना से बात की और अपडेट लिया। राष्ट्रीय राजधानी और इसके आसपास के कई हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश होने के बीच शाह ने दिल्ली एलजी से बात की। बारिश और भारी जलभराव के कारण शहर के कई हिस्सों में यातायात धीमा हो गया। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर घुटने भर पानी से होकर गुजरने वाले यात्रियों की तस्वीरें और वीडियो छा गए, जिससे शहर के जल निकासी बुनियादी ढांचे की दक्षता पर चिंता बढ़ गई। भारी बारिश से यमुना नदी उफान पर दिल्ली ट्रैफिक पुलिस लगातार ट्वीट कर जानकारी देती रही कि बारिश के कारण वाहनों की आवाजाही कैसे प्रभावित हो रही है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में 24 घंटों में 153 मिमी बारिश दर्ज की गई, जो 1982 के बाद से जुलाई में एक दिन में सबसे अधिक है। इसके अलावा, आईएमडी के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ और मानसूनी हवाओं के बीच परस्पर क्रिया के कारण दिल्ली सहित उत्तर पश्चिम भारत में तीव्र वर्षा हो रही है, जहां मौसम की पहली बहुत भारी वर्षा हुई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments