Saturday, March 2, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeहमारी दिल्लीकेजरीवाल सरकार ने जी-20 के मद्देनजर दिल्ली को हरा-भरा करने के लिए...

केजरीवाल सरकार ने जी-20 के मद्देनजर दिल्ली को हरा-भरा करने के लिए अब तक लगाए 36 लाख पौधे  : गोपाल राय

नई दिल्ली। दिल्ली के वन एवं पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बुधवार को प्रेसवार्ता कर कहा कि जी-20 सम्मलेन से पहले केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली को हरा भरा करने के लिए इस साल 36 लाख से ज्यादा पौधे लगाए जा चुके हैं। इस साल 52 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए  21 विभागों की हरित एजेंसियो द्वारा पौधारोपण किया जा रहा है  और अबतक 70 प्रतिशत वृक्षारोपण का लक्ष्य प्राप्त किया जा चुका है।  दिल्ली को हरा-भरा करने के लिए  वन विभाग द्वारा गमले वाले पौधे दिल्ली के विभिन्न सड़कों पर लगाए जा रहे हैं। वन विभाग द्वारा  दिल्ली की सड़कों को 2.5 लाख गमले, फूल / पत्ते वाले पौधों से सजाया जा रहा हैं। इसमें से 1 लाख 80 हज़ार गमले दिल्ली के अलग अलग सड़कों पर  लगाए जा चुके हैं, बाकी गमलों में फूल वाले पौधे सितंबर के पहले सप्ताह में लगा दिए जायेंगे, ताकि जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान पौधे पूरी तरह खिल सकें।

वन एवं पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि वन विभाग द्वारा दिल्ली के धौलाकुआँ से मेहराम नगर, मेहराम  नगर से एयरपोर्ट के टेक्निकल एरिया, टेक्निकल एरिया से थीमाया सड़क/परेड सड़क, भैरों मार्ग, भैरों मार्ग से दिल्ली गेट, दिल्ली गेट से राजघाट, राजघाट से आईटीओ से भैरों मार्ग  आदि। इसके अलावा गमले एनडीएमसी, पीडब्ल्यूडी और दिल्ली हाट को सजा दिए गए है। उन्होंने बताया कि वन विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के  फूल वाले पौधे भी सड़कों पर लगाए जा रहे है। इसमें मेरीगोल्ड,जाफरी, विंका, इक्सोरा, मउसानदा, कुल्फ़ा, पोर्टुलका, टेकोमा, चांदनी, हिबिसकस, जास्मिन आदि शामिल हैं।  साथ ही वन विभाग द्वारा  विभिन्न प्रकार के पत्तेदार पौधे भी  लगाए जा रहे है। उसमे ऐरेका पाम, रफीस पाम, फायकस पांडा, फायकस बेंजमिना, टपिओका, सांग ऑफ़ इंडिया, कोचीए, मौलश्री, फन पाम, सिंगोनियम आदि शामिल हैं।

पर्यावरण एवं वन मंत्री गोपाल राय ने बताया कि वन विभाग का काम सिर्फ गमले रखवाना ही नहीं है, बल्कि उनमें लगे पौधों और फूलों को तरोताज़ा भी बनाए रखना है। इसके लिए सभी संभव उपाय किए जा रहे हैं और गमलों को कोई क्षति न पहुंचे, इसका भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। इसके लिए वन विभाग की टीम लगातार निगरानी कर रही है।  गमलों के रखरखाव और उसके प्लेसमेंट की निगरानी के लिए 300 अधिकारियों, कर्मचारियों और श्रमिकों को लगाया गया हैं।

वन मंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार की ओर से उठाए गए तमाम उपायों के परिणाम स्वरूप दिल्ली के अंदर हरित क्षेत्र (ग्रीन कवर) में काफी इजाफा देखा गया है। इसी दिशा में दिल्ली दिल्ली में जहां साल 2013 में हरित क्षेत्र 20 फीसदी था, वहीं केजरीवाल सरकार के प्रयासों के कारण साल 2021 में बढ़कर 23.06 फीसदी हो गया है। इस वर्ष समर एक्शन प्लान के बिन्दुओ में शामिल वृक्षारोपण महाअभियान को गति देने के लिए 9 जुलाई को आईएआरआई पूसा से शुरू हुए वन महोत्सव कार्यक्रम  दिल्ली के सातों लोकसभा क्षेत्रों में मनाया गया। वन महोत्सव कार्यक्रम के दौरान दिल्लीवासियो को  निःशुल्क औषधीय पौधे बांटे गए। 14 सरकारी नर्सरियो से निःशुल्क औषधीय पौधे भी बाटें जा रहे है ताकि लोग अपने- अपने घरो में वृक्षारोपण कर दिल्ली के हरित क्षेत्र को बढ़ावा देने में सहभागिता दे सकें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments