Wednesday, February 21, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeजनमंचकिसान आंदोलन : नोएडा-गुरुग्राम और दिल्ली के बॉर्डर पर भीषण जाम

किसान आंदोलन : नोएडा-गुरुग्राम और दिल्ली के बॉर्डर पर भीषण जाम

नई दिल्ली। फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को लेकर कानून बनाने सहित कई मांगों को लेकर किसान आज मंगलवार को पंजाब-हरियाणा से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं। ऐसे में किसानों की दिल्ली में एंट्री रोकने और सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस-प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। इसी कड़ी में दिल्ली की सीमाएं सील कर दी गई हैं और कई रास्तों पर ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है। ट्रैफिक प्रतिबंधों के चलते दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद सहित एनसीआर के शहरों में लोगों को जाम की स्थिति से जूझना पड़ रहा है। हरियाणा-पंजाब शंभू बॉर्डर पर किसान और पुलिस एक बार फिर आमने-सामने आ गए हैं। मौके पर प्रदर्शनकारी किसानों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का उपयोग किया है। दिल्ली में किसानों के कूच की वजह से जगह-जगह की गई बैरिकेडिंग और चेकिंग का असर अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों पर भी पड़ रहा है। बॉर्डर के नजदीकी इलाकों से आने वाले लोगों को जहां सामान्य दिनों में जीटीबी या राजीव गांधी अस्पताल पहुंचने में 20 मिनट लगते थे, आज जाम के कारण 45 मिनट से एक घंटे का समय लगा है। भोपुरा से आयीं हेमलता ने बताया कि वह सुबह नौ बजे घर से चली थीं। आम दिनों में केवल 20-25 मिनट लगते थे, लेकिन आज जगह-जगह चेकिंग और जाम के कारण एक घंटा लगा है। किसानों के दिल्ली मार्च के चलते टिकरी बॉर्डर आवागमन के लिए बंद कर दिया गया है। मौके पर बैरिकेड्स लगाकर भारी संख्या में पुलिस और सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। किसानों के दिल्ली चलो मार्च के मद्देनजर राजधानी में सुरक्षा को लेकर पुलिस अलर्ट पर है। ताजा मामले में सुरक्षा कारणों के चलते लालकिला जाने वाले दोनों रास्ते बैरिकेडिंग कर बंद कर दिए गए हैं और सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। साथ ही आम लोगों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments